HomeProgrammingऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग में इनहेरिटेंस क्या है | What is Inheritance in...

ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग में इनहेरिटेंस क्या है | What is Inheritance in OOP in Hindi

हेल्लो पाठकों !

क्या आप जानना चाहते है, ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग में इनहेरिटेंस क्या है (What is Inheritance in OOP in Hindi) और हमें इनहेरिटेंस की आवष्यकता क्यों है।

तो, चलीए इनहेरिटेंस के बारे में विस्तार से जानते है ।

ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग में इनहेरिटेंस क्या है (What is Inheritance in OOP in Hindi) ?

इनहेरिटेंस का हिन्दी अर्थ विरासत है ।

इनहेरिटेंस एक ऐसा तंत्र है जिसमें एक वर्ग दूसरे वर्ग की संपत्ति का अधिग्रहण करता है । इसको एक क्लास की अन्य क्लास से गुणों और विशेषताओं को प्राप्त करने की प्रवृत्ति के रूप में परिभाषित किया गया है ।

यह बेस क्लास से सुविधाओं को निकालने के लिए अतिरिक्त कार्यक्षमता प्रदान करता है और इसे अन्य व्युत्पन्न क्लास में महत्वपूर्ण रूप से लागू करता है ।

उदाहरण के लिए, एक बच्चे को माता-पिता दोनों से उनके गुणों के संपत्ति विरासत में मिलती है । इसी तरह इनहेरिटेंस का अर्थ है कि एक क्लास दूसरे क्लास से विशेषताओं और संबंधित व्यवहारों का एक समूह प्राप्त करता है ।

इनहेरिटेंस कितने प्रकार है (Types of Inheritance) ?

  • Single inheritance
  • Multi level inheritance
  • Multiple inheritance
  • Multipath inheritance
  • Hierarchical inheritance
  • Hybrid inheritance

इनहेरिटेंस का उपयोग क्यों करते है (Why use Inheritance) ?

इनहेरिटेंस एक शब्द है जिसका उपयोग माता- पिता क्लास से बच्चे या उप क्लास में जानकारी और व्यवहार को पारित करने के तंत्र द्वारा कोड का पुनः उपयोग करने के लिए किया जाता है ।
जिस तरह एक बच्चा अपने माता-पिता से विभिन्न व्यवहार प्राप्त कर सकता है, उसी तरह सॉफटवेयर में भी यही अवधारएणा सही है ।
इसमें विरासत शक्ति का लाभ उठाकर और अपने माता-पिता का विस्तार करने वाले बाल क्लास बनाकर, हम उपवर्गों को सुपरपावर के साथ बना सकते हैं जिनके पास उनके माता-पिता के सब कुछ होगा ।

प्रोग्रामिंग में इनहेरिटेंस क्यों महत्वपूर्ण है (Why is Inheritance important in Programming) ?

यह कोड में अतिरेक को कम करता है, जिसका अर्थ है कि इनहेरिटेंस आपको कोड का पुनः उपयोग करने में मदद करता है, जिसके परिणामस्वरूप एक ही कोड को विभिन्न स्थानों पर लिखना पड़ता है, जिससे कोड की अनावश्यक प्रतिकृति होती है ।
हम अपने प्रोग्राम से डप्लिकेट डेटा और अतिरेक से बच सकते है ।
इसमें मूल वर्ग से कई चीजें प्राप्त कर सकते हैं ।
अगर आप पता या कुछ भी अपडेट करना चाहते हैं, तो केवल बेस क्लास का पता बदल देंगे, और सभी व्युत्पन्न वर्ग उस बेस क्लास से संपत्ति प्राप्त करेंगे ।

अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकी उन्हें भी इस बारे में जानकारी प्राप्त हो सके ।

Tazahindi Staff
Tazahindi Staffhttps://tazahindi.com
इस पोस्ट के लेखक सत्यजीत है, वह इस वेबसाइट का Founder भी हैं । उन्होंने Information Technology में स्नातक और Computer Application में मास्टर डिग्री प्राप्त की हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here