HomeProgrammingऑपरेटर ओवरलोडिंग क्या है | What is Operator Overloading in C++...

ऑपरेटर ओवरलोडिंग क्या है | What is Operator Overloading in C++ in Hindi

हेल्लो पाठकों !

क्या आप जानना चाहते है, ऑपरेटर ओवरलोडिंग क्या है (What is Operator Overloading in C++ in Hindi) और ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग में ऑपरेटर ओवरलोडिंग का उपयोग क्यों किया जाता है ।

तो, चलीए विस्तार से जानते है ।

ऑपरेटर ओवरलोडिंग क्या है (What is Operator Overloading in C++ in Hindi) ?

ऑपरेटर ओवरलोडिंग कंपाइलर को यह बताने की क्षमता है कि एक निश्चित ऑपरेशन कैसे किया जाए, जब उसके संबंधित ऑपरेटर का उपयोग एक या अधिक वेरिएबल पर किया जाता है ।

ऑपरेटर ओवरलोडिंग की एक दिचस्प विशेषता है जो प्रोग्रामर को यह निर्देष्ट करने की सुविधा प्रदान करता है कि विभिन्न अंकगणित, संबंधपरक और कई अन्य ऑपरेटर यूजर परिभाषित डेटा प्रकारों या कक्षाओं के साथ कैसे काम करते है ।

Syntax of Operator Overloading

ऑपरेटर ओवरलोडिंग कितने प्रकार है (Types of Operator Overloading)

  • Overloading unary operator
  • Overloading binary operator
  • Overloading binary operator using a friend function

Overloading unary operator

यूनरी ऑपरेटर फंक्शन में, कोई तर्क पारित नहीं किया जाना चाहिए । यह केवल एक क्लास की वस्तुओं के साथ काम करता है । यह एक ही ऑपरेंड पर काम करने वाले ऑपरेटर को ओवरलोडिंग है ।

Overloading binary operator

एक ऑपरेटर जिसमें गणितीय ऑपरेशन करने के लिए दो ऑपरेंड होते हैं उसे बाइनरी ऑपरेटर ओवरलोडिंग कहलाते हैं । यह एक बहुरूपी संकलन तकनीक है जहां एक सिगंल ऑपरेटर प्रोग्रामर या यूजर से दो ऑपरेंड लेकर विभिन्न कार्य कर सकता है ।

इसमें , +, -, *, /, आदि जैसे कई बाइनरी ऑपरेटर हैं, जो किसी क्लास की वस्तु को सीधे जोड़-तोड़ या अधिभारित कर सकते हैं ।

Overloading binary operator using a friend function

इस दृष्टिकोण में, ऑपरेटर ओवरलोडिंग फंक्शन को मित्र कीवड से पहले होना चाहिए, और फंक्शन कलास स्कोप घोषित करना चाहिए । ध्यान में रखते हुए, मित्र ऑपरेटर फंक्शन बाइनरी ऑपरेटर में दो पैरामीटर लेता है, एक यूनरी ऑपरेटर में एक पैरा मीटर बदलता है । इस फक्शन को छोड़कर सभी कार्य और कार्यान्वयन बाइनरी ऑपरेटर फंक्शन के समान होंगे, जो कक्षा के दायरे से बाहर लागू किए जाएंगे ।

ऑपरेटर ओवरलोडिंग के क्या लाभ हैं (What are the benefits of operator overloading) ?

ऑपरेटर ओवरलोडिंग इस्तेमाल करने की निम्नलिखित लाभ हैं :-

  • ऑपरेटर ओवरलोडिंग प्रोग्रामर को लक्ष्य डोमेन के करीब नोटेशन का उपयोग करने में सक्षम बनाता है ।
  • ऑपरेटर ओवरलोडिंग यूजर-डिफाइन टाइपों के लिए अंतर्निहित टाइपों के समान वाक्यात्मक समर्थन प्रदान करता है ।
  • ऑपरेटर ओवरलोडिंग प्रोग्राम को समझने में आसान बनाता है ।

OOPs में ऑपरेटर ओवरलोडिंग का उपयोग क्या है (Why operator overloading is used in OOP)  

ऑपरेटर ओवरलोडिंग उपयोगी है क्योंकि यह डेवलपर को लक्ष्य डोमेन के करीब संकेतन का उपयोग करके प्रोग्राम करने की सुविधा प्रदान करता है और यूजरो द्वारा परिभाशित प्रकारों को भाषा में निर्मित प्रकारों के समान वाक्यात्मक सकर्थ की सुविधा प्रदान करता है ।

ऑपरेटर ओवरलोडिंग के नियम क्या हैं (Rules for Operator Overloading) ?

C++ में ऑपरेटरों को ओवरलोड करने के नियम निम्नलिखित हैं :-

  • केवल अंतर्निहित ऑपरेटरों को ओवरलोड किया जा सकता है ।
  • ऑपरेटरों की डिग्री या धर्मिता को बदा नहीं जा सकता है ।
  • ऑपरेटर की प्राथमिकता और संबद्धता को बदला नहीं जा सकता है ।

अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकी उन्हें भी इस बारे में जानकारी प्राप्त हो सके ।

Satyajit Nath
Satyajit Nathhttps://tazahindi.com
इस पोस्ट के लेखक सत्यजीत है, वह इस वेबसाइट का Founder भी हैं । उन्होंने Information Technology में स्नातक और Computer Application में मास्टर डिग्री प्राप्त की हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here