Home CS Subjects ऑपरेटिंग सिस्टम में थ्रेड क्या है | What is Thread in Operating...

ऑपरेटिंग सिस्टम में थ्रेड क्या है | What is Thread in Operating System in Hindi

2
2576
What is Tread in OS in Hindi

हेल्लो पाठकों !

क्या आप जानना चाहते है, ऑपरेटिंग सिस्टम में थ्रेड क्या है (What is Thread in Operating System in Hindi), थ्रेड कितने प्रकार के होते है और ऑपरेटिंग सिस्टम में थ्रेडस का उपयोग क्यों किया जाता है ।

अगर आप इंटरनेट पर इन सवालो का जवाब खोज रहे हैं तो इस पोस्ट में आपको स्वागत है।

तो चलिए Thread in Operating System के बारे में विस्तार से जानते है ।

ऑपरेटिंग सिस्टम में थ्रेड क्या है (What is Thread in Operating System in Hindi) ?

थ्रेड एक अकेला स्टीम है जो एक प्रोग्राम को दो या दो से अधिक एक साथ चलने वाले कार्यों में विभाजित करने की सुवीधा प्रदान करता है ।

थ्रेड सीपीयू उपयोग की एक बुनियादी इकाई है, और इसमें एक प्रोग्राम काउंटर, एक रजिस्टर सेट और एक स्टैक स्पेस होता है ।

ऑपरेटिंग सिस्टम में थ्रेडस का उपयोग क्यों किया जाता है (Why Threads use in Operating System) ?

एक ऑपरेटिंग सिस्टम को डिजाइन करने व्यक्त निम्नलिखित कारणों से थ्रेडस का उपयोग किया जाता है :-

  • एकाधिक थ्रेडस वाली एक प्रक्रिया एक महान सर्वर बनाती है ।
  • चूंकि थ्रेड सामान्य डेटा शेयर कर सकता हैं, इसलिए इसे इंटरप्रोसेस संचार का उपयोग करने की आवश्यकता नहीं है ।
  • अलग प्रकृति के कारण, थ्रेडस मल्टी प्रोसेसर का लाभ उठा सकते हैं ।
  • थ्रेड बनाना बहुत सस्ते हैं क्योंकि इसे केवल रजिस्टरों के लिए एक स्टैक और स्टोरेज की आवश्यकता होती है ।

थ्रेडस कितने प्रकार के होते है (Types of Threads) ?

  • User-Level Threads
  • Kernel-Level Threads

User-Level Threads

यूजर स्तर के थ्रेड सिस्टम कॉल के बजाय यूजर स्तर के पुस्तकालयों में लागू होते हैं । इसलिए थ्रेड स्विचिंग को ऑपरेटिंग सिस्टम को कॉल करने और कर्नेल को बाधित करने की आवश्यकता नहीं है ।

वास्तव में, कर्नेल यूजर स्तर के थ्रेडस के बारे में कुछ नहीं जानता है और उन्हें ऐसे प्रबंधित करता है जैसे कि वे सिंगल थ्रेडेड प्रक्रियाएं हों ।

यूजर स्तरीय थ्रेड कर्नेल स्तर के थ्रेडस की तुलना में छोटे और बहुत तेज होते हैं ।

Kernel-Level Threads

कर्नेल स्तर के थ्रेड कर्नेल द्वारा आपूर्ति किए गए थ्रेड हैं । कर्नेल स्तरीय थ्रेडस को सीधे ऑपरेटिंग सिस्टम द्वारा नियंत्रित किया जाता है और थ्रेड प्रबंधन कर्नेल द्वारा किया जाता है ।

कर्नेल स्तरीय थ्रेड में प्रत्येक थ्रेड और प्रक्रिया के लिए सिस्टम में एक थ्रेड कंट्रोल ब्लॉक और प्रोसेस कंट्रोल ब्लॉक होता है ।

कर्नेल स्तरीय थ्रेड उपयोगकर्ता स्थान से थ्रेडस बनाने और प्रबंधित करने के लिए एक सिस्टम कॉल प्रदान करता है ।

थ्रेडस के क्या लाभ हैं (Benefits of Threads) ?

थ्रेडस को इस्तेमाल करने की कोई लाभ हैं, जैस :-

  • जब थ्रेड ठीक से उपयोग किया जाता है, तो थ्रेड विकास और रखरखाव की लागत को कम कर सकते हैं और जटिल अनुप्रयोगों के प्रदर्षन में सुधार कर सकते हैं ।
  • थ्रेड एसिंक्रोनस वर्कफलो को अधिकतर अनुक्रमिक में बदलकर, यह मॉडल करना आसान बनाते हैं कि मनुष्य कैसे काम करते हैं और बातचीत करते हैं । वे अन्यथा जटिल कोड को स्टेट लाइन कोड में बदल सकते हैं जो लिखने, पढ़ने और बनाए रखने में आसान है ।
  • जब प्रक्रिया को कई थ्रेडस में विभाजित किया जाता है, और प्रत्येक थ्रेड को नौकरी के रूप में माना जाता है, तो यूनिट समय में किए गए कार्यों की संख्या बढ़ जाती है । इसलिए सिस्टम का throughput भी बढ़ता है ।

निर्ष्कष – Conclusion

थ्रेड प्रक्रिया कोड के माध्यम से निष्पादन का एक प्रवाह है, अपने स्वयं के प्रोग्राम काउंटर के साथ जो टैक करता है कि किस निर्देश को आगे निष्पादित करना है, सिस्टम रजिस्टर जो इसके वर्तमान कार्यशील चर रखता है, और एक स्टैक जिसमें निश्पादन इतिहास होता है ।

मुझे आशा है इस लेख से आपने हिन्दी में ही थ्रेड क्या है (What is Thread in Operating System in Hindi), इसके प्रकार, ऑपरेटिंग सिस्टम में थ्रेडस का उपयोग क्यों किया जाता है, इसके उपयोग के क्या लाभ है, इनके के बारें में आपको अच्छे से पता चल गया हैं ।

अगर फिर भी थ्रेड बारे में आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप हमें कमेंट करके बता सकते है ।

इस पोस्ट के लेखक सत्यजीत है, वह इस वेबसाइट का Founder भी हैं । उन्होंने Information Technology में स्नातक और Computer Application में मास्टर डिग्री प्राप्त की हैं ।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here