HomeProgrammingजावा प्रोग्रामिंग की बेसिक को कैसे सीखें | How to learn...

जावा प्रोग्रामिंग की बेसिक को कैसे सीखें | How to learn basics of Java programming in Hindi

हेल्लो पाठकों !

क्या आप जानना चाहते है, जावा प्रोग्रामिंग क्या है और जावा प्रोग्रामिंग की बेसिक को कैसे सीखें तो इस लेख से आप हिन्दी में जावा प्रोग्रामिंग क्या है, आपके कंप्यूटर में जावा सॉफटवेयर की स्थापना कैसे करेगें और आखीर में जावा प्रोग्रामिंग की बेसिक पार्ट को कैसे सीखें यह जान सकते है ।

तो चलिए basic of java programming के बारे में विस्तार से जानते है।

जावा प्रोग्रामिंग क्या है (What is Java programming in Hindi) ?

जावा एक सरल प्रोग्रामिंग भाषा है जिसे आसानी से सीखा जा सकता है, भले ही आपने अभी प्रोग्रामिंग षुरू की हो ।

जावा एक शक्तिशाली सामान्य प्रयोजन प्रोग्रामिंग भाषा है । जावस सबसे छोटे उपकरणों से लेकर सुपर कंप्यूटर तक हर जगह काम करता है ।

जावा का उपयोग डेस्कटॉप और मोबाइल एप्लिकेशन, बिग डेटा प्रोसेसिंग, एम्बेडेड सिस्टम आदि को विकसित करने के लिए किया जाता है ।

जावा प्रोग्राम इस बात पर निर्भर नहीं करते कि वे किस तरह के कंप्यूटर, टेलीफोन, टेलीविजन या ऑपरेंटंग सिस्टम पर चलते हैं ।

वे किसी भी प्रकार के एैसे डिवाइस पर काम करते हैं जो जावा प्लेटफॉर्म का समर्थन करता है ।

जावा प्रोग्रामिंग की विशेषताएं क्या है (Features of Java programming) ?

एैसे तो जावा प्रोग्रामिंग की कई विशेषताएं हैं, लेकिन उनमे से सबसे उल्लेखनीय विशेषताएं निम्नलिखित हैं :-

  • Simple
  • Object oriented
  • Distributed
  • Compiled and Interpreted
  • Robust
  • Architecture Neutral and Portable
  • Secure
  • A high performance programming language
  • Multithreaded
  • Dynamic

जावा प्रोग्रामिंग के environment को कैसे स्थापित करें (How to set up environment for Java) ?

इस अनुभाग में, आप जानेगें जावा सॉफटवेयर को डाउनलोड और जावा के लिए अनुकूल वातावरण कैसे स्थापित किया जाता हैं ।

सबसे पहले, जावा सॉफटवेयर को इस लिंक से डाउनलोड करें (download Java from here) जो स्वतंत्र रूप से उपलब्ध है । आप अपने ऑपरेटिंग सिस्टम के आधार पर नवीनतक संस्करण को डाउनलोड कर सकते हैं ।

जावा सॉफटवेयर को डाउनलोड करने के बाद आप अपनी मशीन पर जावा स्थापित करने के लिए .exe को चलाए ।

Windows के लिए जावा Path कैसे सेट करें :-

  • मई कंप्यूटर पर राइट क्लिक करें और properties चुनें ।
  • Advanced टैब के अंतर्गत Environment variables बटन पर क्लिक करें ।
  • अब, Path वेरिएबल को बदल दें ताकि इसमें जावा एक्जीक्यूटेबल का Path भी शामिल हो ।

जावा प्रोग्रामिंग के लिए लोकप्रिय कोड एडिटर कौन सी हैं (Code Editor for Java programming) ?

जावा प्रोग्राम लिखने के लिए, आपको एक टेक्स्ट एडिटर /कोड एडिटर की आवश्यकता होगी । आज कई प्रकार के आईडीई उपलब्ध है, उन में से कुछ लोकप्रिय नाम निम्नलिखित है :-

  • Netbeans
  • Eclipse
  • Notepad++

जावा प्रोग्रामिंग को सीखने के बेसिक पार्ट में क्या आते है (What comes in the basics of Java programming) ?

जावा प्रोग्रामिंग के बेसिक में कई चीजें आती हैं, जिनमें से निम्नलिखित महत्वपूर्ण है :-

  1. Keywords
  2. Comments
  3. Data types
  4. Variable
  5. Operators
  6. Control Flow Statements

Keywords

जावा प्रोग्रामिंग में कीवर्ड को आरक्षित शब्दों के रूप में भी जाना जाता है । कीवर्ड विशेष शब्द हैं जो एक कोड की key के रूप में कार्य करते हैं ।

ये जावा द्वारा पूर्वनिर्धारित शब्द हैं, इसलिए इन्हें एक वेरिएबल या वस्तु के नाम या वर्ग के नाम के रूप में उपयोग नहीं किया जा सकता है ।

जावा प्रोग्रामिंग भाषा में वर्तमान में परिभाषित 50 आरक्षित कीवर्ड हैं, जिनकी सूची नीचे दी गई है :-

abstractcontinuefornewswitch
assertdefaultgotopackagesynchronized
booleandoifprivatethis
breakdoubleimplementsprotectedthrow
byteelseimportpublicthrows
caseenuminstanceofreturntransient
catchextendsintshorttry
charfinalinterfacestaticvoid
classfinallylongstrictfpvolatile
constfloatnativesuperwhile

Comments

जावा में कोमेन्ट वे स्टेटमेन्ट हैं जिन्हें संकलक और दुभाषिया द्वारा निष्पादित नहीं किया जाता है । इसका उपयोग वेरिएबल, मेथड, क्लास या किसी स्टेटमेन्ट या स्पष्टीकरण प्रदान करने के लिए किया जा सकता है ।

कोमेन्ट का उपयोग कोड को बेहतर ढंग से समझाने और इसे और अधिक पठनीय बनाने के लिए किया जाता है ।

जावा में तीन प्रकार की कोमेन्ट होता हैं, वे इस प्रकार है :-

  • Single line comments
  • Multi line comments
  • Documentation comments

Data Types

डेटा टाईप विभिन्न आकारों और मूल्यों को निर्दिष्ट करते हैं जिन्हें वेरिएबल में संग्रहीत किया जा सकता है । जावा में दो प्रकार के डेटा प्रकार होते है :-

  • Primitive / standard data type
  • Non primitive/ derived data type

Variables

वेरिएबल एक कंटेनर है जो जावा प्रोग्राम को निष्पादित करते समय मान रखता है । डेटा टाईप के साथ एक वैरिएबल असाइन किया जाता है । वेरिएबल मेमोरी लोकेशन का एक नाम है ।

जावा में तीन प्रकार के वेरिएबल है :-

  • Local
  • Instance
  • Static

Operators

जावा प्रोग्रामिंग में ऑपरेटर एक सिम्बल है जिसना उपयोग संचालन करने के लिए किया जाता है । जावा में कई प्रकार के ऑपरेटर हैं जो नीचे दिए गए हैं :-

  • Arithmetic operators
  • Assignment operators
  • Relational operators
  • Logical operators
  • Unary operators
  • Bitwise operators
  • Shift operators
  • Ternary operators

Control Flow Statements

जावा प्रोग्रामिंग में कंट्रोल फ्लो स्टेटमेंट आपको अपने प्रोग्राम में कोड के निष्पादन के प्रवाह को नियंत्रित करने देता है ।

जावा कंपाइलर उपर से नीचे तक कोड को एक्जीक्यूट करता है । कोड में बयानों को उस क्रम के अनुसार निष्पादित किया जाता है जिसमें वे दिखाई देते हैं ।

लेकिन जावा ऐसे स्टेटमेंट प्रदान करता है जिनका उपयोग जावा कोड के प्रवाह को नियंत्रित करने के लिए किया जा सकता है, ऐसे स्टेटमेन्ट को कंट्रोल फ्लो स्टेटमेंट कहा जाता है ।

जावा में तीन प्रकार के कंट्रोल फ्लो स्टेटमेंट होते हैः-

  • Decision making statements
  • Loop statements
  • Jump statements

निर्ष्कष – Conclusion

मुझे आशा है इस पोस्ट से आपने जावा प्रोग्रामिंग की बेसिक को अच्छे से सीख लिया है ।

अगर फिर भी जावा प्रोग्रामिंग के बेसिक को लेकर आपके पास कोई प्रश्र हैं, तो आप हमें निचे दिए गए टिप्पणी अनुभाग के जरीए हमसे पुछ सकते है ।

FAQ’s

Q1 :

Ans:

अन्य पोस्ट पढ़े :-

अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकी उन्हें भी इस बारे में जानकारी प्राप्त हो सके ।

Satyajit Nath
Satyajit Nathhttps://tazahindi.com
इस पोस्ट के लेखक सत्यजीत है, वह इस वेबसाइट का Founder भी हैं । उन्होंने Information Technology में स्नातक और Computer Application में मास्टर डिग्री प्राप्त की हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here