HomeCS SubjectsNAND और NOR गेट्स को यूनिवर्सल गेट्स क्यों कहा जाता है |...

NAND और NOR गेट्स को यूनिवर्सल गेट्स क्यों कहा जाता है | Why NAND and NOR gates are called Universal Gates

NAND और NOR गेट डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक्स में इस्तेमाल होने वाले दो फंडामेंटल लॉजिक गेट हैं। इन गेट्स को यूनिवर्सल गेट्स कहा जाता है क्योंकि इनका उपयोग किसी अन्य लॉजिक गेट के निर्माण के लिए किया जा सकता है। इस लेख में, मैं आपको NAND और NOR गेट्स को यूनिवर्सल गेट्स क्यों कहा जाता है (Why NAND and NOR gates are called Universal Gates), NAND और NOR गेट्स के गुणों के बारे में समझाऊंगा जो उन्हें यूनिवर्सल गेट बनाते हैं और यह भी बताएंगे कि किसी अन्य लॉजिक गेट को बनाने के लिए उनका उपयोग कैसे किया जा सकता है।

NAND और NOR गेट क्या हैं (What are NAND and NOR gates in Hindi) ?

NAND और NOR गेट्स डिजिटल लॉजिक गेट्स हैं जो क्रमशः conjunction और disjunction के बूलियन लॉजिक कार्य करते हैं। NAND गेट केवल 0 का लॉजिक आउटपुट उत्पन्न करता है जब इसके सभी इनपुट 1 होते हैं, जबकि NOR गेट केवल 1 का लॉजिक आउटपुट उत्पन्न करता है जब इसके सभी इनपुट 0 होते हैं।

NAND और NOR गेट्स के पास यूनिक प्रॉपर्टी है जिसके बजे से इन दोनों  गेट्स का उपयोग करके किसी भी लॉजिक कार्य को लागू किया जा सकता है। यह यूनिक प्रॉपर्टी उन्हें डिजिटल सर्किट का सबसे बेसिक बिल्डिंग ब्लॉक और सभी आधुनिक डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक्स की नींव बनाती है।

NAND और NOR गेट्स को यूनिवर्सल गेट्स क्यों कहा जाता है (Why NAND and NOR gates are called Universal Gates) ?

एक गेट को यूनिवर्सल तब माना जाता है यदि इसका उपयोग किसी लॉजिक कार्य को लागू करने के लिए किया जा सकता है। NAND और NOR गेट्स के पास यह यूनिक प्रॉपर्टी है क्योंकि उनका उपयोग AND, OR, NOT, XOR और XNOR गेट्स सहित अन्य सभी लॉजिक गेट्स के निर्माण के लिए किया जा सकता है।

NAND Gate

NAND GateNAND गेट किसी भी लॉजिक कार्य को कार्यान्वित कर सकता है NAND गेट्स के संयोजन का उपयोग करके । ऐसा इसलिए है क्योंकि NAND गेट AND, OR और NOT गेट्स के कार्य कर सकता है।

 

इसे स्पष्ट रूप से समझने के लिए आप निम्नलिखित उदाहरण को देख सकते हैं :-

AND gate using NAND gate

NAND गेट्स का उपयोग करके AND गेट को लागू करने के लिए हम सीरीज में दो NAND गेट्स को जोड़ सकते हैं और फिर दूसरे NAND गेट के आउटपुट को पहले NAND गेट के इनपुट से जोड़ सकते हैं। परिणामी सर्किट AND गेट की तरह कार्य करेगा।

OR gate using NAND gate

NAND गेट्स का उपयोग करके एक OR गेट को लागू करने के लिए हम दो NAND गेट्स को समानांतर में जोड़ सकते हैं और फिर दोनों NAND गेट्स के आउटपुट को दूसरे NAND गेट के इनपुट से कनेक्ट कर सकते हैं। परिणामी सर्किट एक OR गेट की तरह कार्य करेगा।

NOT gate using NAND gate

NAND गेट का उपयोग करके NOT गेट को लागू करने के लिए हम NAND गेट के इनपुट को दूसरे NAND गेट के दोनों इनपुट से जोड़ सकते हैं। दूसरे NAND गेट का आउटपुट इनपुट का व्युत्क्रम होगा, और इस प्रकार NOT गेट की तरह कार्य करेगा।

NOR Gate

NOR GateNOR गेट का उपयोग किसी लॉजिक कार्य को लागू करने के लिए भी किया जा सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि NOR गेट NAND गेट की तरह ही  AND, OR और NOT  गेट्स के कार्य कर सकता है।

 

इसे स्पष्ट रूप से समझने के लिए आप निम्नलिखित उदाहरण को देख सकते हैं

AND gate using NOR gate

NOR गेट्स का उपयोग करके AND गेट को लागू करने के लिए, हम दो NOR गेट्स को समानांतर में जोड़ सकते हैं और फिर दोनों NOR गेट्स के आउटपुट को दूसरे NOR गेट के इनपुट से जोड़ सकते हैं। परिणामी सर्किट AND गेट की तरह कार्य करेगा।

OR gate using NOR gate

NOR गेट्स का उपयोग करके OR गेट को लागू करने के लिए, हम सीरीज में दो NOR गेट्स को जोड़ सकते हैं और फिर दूसरे NOR गेट के आउटपुट को पहले NOR गेट के इनपुट से जोड़ सकते हैं। परिणामी सर्किट एक OR गेट की तरह कार्य करेगा।

NOT gate using NOR gate

NOR गेट का उपयोग करके NOT गेट को लागू करने के लिए, हम NOR गेट के इनपुट को दूसरे NOR गेट के दोनों इनपुट से जोड़ सकते हैं। दूसरे NOR गेट का आउटपुट इनपुट का व्युत्क्रम होगा, और इस प्रकार NOT गेट की तरह कार्य करेगा।

NAND और NOR गेट के उपयोग के क्या लाभ (Advantages of using NAND and NOR Gates) ?

डिजिटल सर्किट के बिल्डिंग ब्लॉक्स के रूप में NAND और NOR गेट्स का उपयोग करने के कई फायदे हैं, जैसे-

  • सरलता
  • कम कॉम्पोनेन्ट गिनती करना
  • बिजली की खपत को कम करना
  • डिजाइन करने में आसानी

सरलता (Simplicity)

NAND और NOR गेट्स को लागू करना सरल है और इसके लिए केवल कुछ ट्रांजिस्टर की आवश्यकता होती है। यह उन्हें डिजिटल सर्किट में उपयोग के लिए आदर्श बनाता है, जहां बड़ी संख्या में गेट्स की आवश्यकता हो सकती है।

कम कॉम्पोनेन्ट गिनती करना (Reduced component count)

केवल NAND या NOR गेट्स का उपयोग सर्किट के कॉम्पोनेन्ट की संख्या को कम कर सकता है, क्योंकि कई प्रकार के गेट्स का उपयोग करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

बिजली की खपत को कम करना (Reduced Power)

NAND और NOR गेट भी अन्य गेट्स की तुलना में अधिक पावर-एफिसिएंट हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि उनके पास कम ट्रांजिस्टर होते हैं और इसलिए वे कम बिजली की खपत करते हैं।

डिजाइन करने में आसानी (Ease of Design)

डिजिटल सर्किट के बिल्डिंग ब्लॉक्स के रूप में NAND और NOR गेट्स का उपयोग करना भी सर्किट डिजाइन को आसान बनाता है।

ऐसा इसलिए है क्योंकि कई अलग-अलग गेट प्रकारों के प्रॉपर्टीज पर विचार करने के बजाय सर्किट को केवल कुछ गेट प्रकारों का उपयोग करके डिज़ाइन किया जा सकता है।

NAND और NOR गेट्स के क्या अनुप्रयोग हैं (Applications of NAND and NOR Gates) ?

NAND और NOR गेट्स का उपयोग विभिन्न प्रकार के डिजिटल सर्किट में किया जाता है, जिसमें कंप्यूटर, कैलकुलेटर और अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण शामिल हैं। उनका उपयोग logical functions को लागू करने के लिए किया जाता है, जैसे कि arithmetic और comparison operations, साथ ही मेमोरी और स्टोरेज फ़ंक्शन।

Memory circuits

NAND और NOR गेट आमतौर पर मेमोरी सर्किट में उपयोग किए जाते हैं, जैसे डायनेमिक रैंडम-एक्सेस मेमोरी (DRAM) और फ्लैश मेमोरी। इन परिपथों में, मेमोरी से डेटा को पढ़ने और लिखने के लिए आवश्यक तर्क को लागू करने के लिए गेट्स का उपयोग किया जाता है।

Logic circuits

NAND और NOR गेट्स का उपयोग लॉजिक सर्किट में भी किया जाता है, जैसे कि adders, subtractors और comparators। ये सर्किट बाइनरी डेटा पर गणितीय और तुलनात्मक संचालन करते हैं, और इन सर्किटों के लिए NAND और NOR गेट आवश्यक बिल्डिंग ब्लॉक हैं।

Control circuits

NAND और NOR गेट्स का उपयोग कंट्रोल सर्किट में भी किया जाता है, जैसे टाइमिंग सर्किट और ऑसिलेटर। ये सर्किट सिग्नल उत्पन्न करने और संचालन के समय को नियंत्रित करने के लिए गेट्स का उपयोग करते हैं।

निष्कर्ष (Conclusion)

NAND और NOR गेट्स को यूनिवर्सल गेट्स कहा जाता है क्योंकि इनका उपयोग किसी भी लॉजिक कार्य को लागू करने के लिए किया जा सकता है। उनके पास AND, OR, NOT, XOR और XNOR  गेट सहित अन्य सभी लॉजिक गेट बनाने में सक्षम होने की यूनिक प्रॉपर्टी है।

डिजिटल सर्किट के बिल्डिंग ब्लॉक्स के रूप में NAND और NOR गेट्स का उपयोग करने के कई फायदे हैं, जिनमें सरलता, घटक संख्या में कमी और बिजली की खपत में कमी शामिल है। वे विभिन्न प्रकार के डिजिटल सर्किट में उपयोग किए जाते हैं, जिनमें मेमोरी सर्किट, लॉजिक सर्किट और कंट्रोल सर्किट शामिल हैं, और आधुनिक डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक्स के आवश्यक बिल्डिंग ब्लॉक में भी उपयोग किए जाते हैं।

ये भी पढ़ें:

FAQs 

  1. NAND और NOR गेट अन्य लॉजिक गेट से किस प्रकार भिन्न हैं ?

    NAND और NOR गेट्स के पास AND, OR, NOT, XOR और XNOR  गेट्स सहित अन्य सभी लॉजिक गेट्स के निर्माण में सक्षम होने की अनूठी संपत्ति है।

  2. NAND और NOR गेट आमतौर पर इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में कहाँ उपयोग किए जाते हैं ?

    NAND और NOR गेट आमतौर पर विभिन्न प्रकार के डिजिटल सर्किट में उपयोग किए जाते हैं, जिनमें कंप्यूटर, कैलकुलेटर और मेमोरी और स्टोरेज सर्किट शामिल हैं।

  3. NAND और NOR गेट्स का उपयोग करके किस प्रकार के सर्किट बनाए जा सकते हैं ?

    NAND और NOR गेट्स का उपयोग विभिन्न प्रकार के डिजिटल सर्किट बनाने के लिए किया जा सकता है, जिसमें मेमोरी सर्किट, लॉजिक सर्किट और कंट्रोल सर्किट शामिल हैं।

अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकी उन्हें भी इस बारे में जानकारी प्राप्त हो सके ।

Satyajit Nath
Satyajit Nathhttps://tazahindi.com
इस पोस्ट के लेखक सत्यजीत है, वह इस वेबसाइट का Founder भी हैं । उन्होंने Information Technology में स्नातक और Computer Application में मास्टर डिग्री प्राप्त की हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here