HomeCS Subjectsऑपरेटिंग सिस्टम में डेडलॉक क्या है | What is Deadlock in Operating...

ऑपरेटिंग सिस्टम में डेडलॉक क्या है | What is Deadlock in Operating System in Hindi

हेल्लो पाठकों !

क्या आप जानते है, डेडलॉक क्या है (What is Deadlock in Operating System in Hindi), डेडलॉक उत्पन्न होने की स्थितियॉ क्या होती है, डेडलॉक हैंडलिंग क्या है और ऑपरेटिंग सिस्टम में डेडलॉक को कैसे रोक सकते है ।

अगर आप ऑपरेटिंग सिस्टम के Deadlock  के बारे में जनना चाहते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए है ।

तो चलिए Deadlock  के बारे में विस्तार से सीखते है ।

ऑपरेटिंग सिस्टम में डेडलॉक क्या है (What is Deadlock in Operating System in Hindi) ?

ऑपरेटिंग सिस्टम में संसाधनों की संख्या हमेशा सीमित होती है लेकिन प्रतियोगिता प्रक्रियाएं कई होते हैं ।

एक बहुप्रोग्रामिंग वातावरण में, कई प्रक्रियाएं सीमित संख्या में संसाधनों के लिए प्रतियोगिता करते है । संसाधनों के लिए एक प्रक्रिया अनुरोध करती है, यदि उस समय संसाधन उपलब्ध नहीं हैं, ऐसे मामले में प्रक्रिया प्रतीक्षा स्थिति में चली जाती है ।

ऐसा हो सकता है कि प्रतीक्षा प्रक्रिया कभी भी स्थिति या अवस्था नहीं बदलेगी क्योंकि अनुरोधित संसाधन अन्य प्रक्रियाओं द्वारा आयोजित किए जाते हैं जो स्वयं अतिरिक्त संसाधनों की प्र्रतीक्षा कर रह हैं और इसलिए यह एक प्रतीक्षा स्थिति है, इस स्थिति को ऑपरेटिंग सिस्टम में डेडलॉक कहा जाता है ।

डेडलॉक एक ऐसी स्थिति है जो ऑपरेटिंग सिस्टम में तब होती है जब कोई भी प्रक्रिया प्रतीक्षा की स्थिति में प्रवेश करती है क्योंकि एक अन्य प्रतीक्षा प्र्रिक्रय में मांगे गए संसाधन होते है ।

मल्टी प्रोसेसिंग मे यह एक आम समस्या है जहां कई प्रकियाएं एक विशिष्ट प्रकार के परस्पर अनन्य संसाधन को षेयर करती हैं जिसे सॉफट लॉक या सॉफटवेयर के रूप में जाना जाता है ।

डेडलॉक उत्पन्न होने की स्थितियॉ क्या होती है (Conditions for Deadlock occurs) ?

किसी एक कंप्यूटर सिस्टम में एक डेडलॉक तवी उत्पन्न होता है यदि निम्नलिखित चार स्थितियां एक साथ होती है :-

  • Mutual exclusion
  • Hold and wait
  • No preemption
  • Circular wait

Mutual exclusion

Mutual exclusion को हिन्दी में आपसी बहिष्कार कहा जाता है । इस शर्त से, सिस्टम में कम से कम एक संसाधन मौजूद होना चाहिए जो एक समय में केवल एक प्रक्रिया द्वारा उपयोग किया जा सकता है । एक संसाधन को एक समय में केवल एक प्रक्रिया द्वारा धारित किया जा सकता है ।

जब दो लोग लैंडिंग में मिलत हैं, तो वे चल नहीं सकते क्योंकि केवल एक व्यक्ति के लिए जगह होती है । यह शर्त केवल एक व्यक्ति या प्रक्रिया को उनके या संसाधन के बीच के कदम का उपयोग करने की अनुमति देने के लिए डेडलॉक की घटना के लिए आवश्यक पहली शर्त है ।

Hold and wait

इस शर्त में, प्रक्रिया मौजूद है जो कम से कम एक संसाधन को पकड़ रही है और दूसरी प्रक्रिया द्वारा रखे गए अतिरिक्त संसाधन की प्रतीक्षा कर रही है ।

एक प्रक्रिया एक समय में कई संसाधनों को धारण कर सकती है और साथ ही, यह अन्य संसाधनों के लिए अनुरोध कर सकती है जो किसी अन्य प्रक्रिया द्वारा आयोजित किए जा रहे हैं ।

जब दो लोग पीछे हटने से इनकार करते हैं और अपना आधार रखते हैं, तो इसे होल्डिंग कहा जाता है ।

No preemption

इस शर्त से, एक बार संसाधन को प्रक्रिया के लिए आवंटित कर दिया गया है, तो इसे पूर्व मुक्त नहीं किया जा सकता है । इसका मतलब है कि संसाधन को एक प्रक्रिया से जबरदस्ती छीनकर दूसरी प्रक्रिया को नहीं दिया जा सकता है । प्रक्रिया को संसाधन को स्वेच्छा से स्वंय जारी करना होगा ।

किसी संसाधन को किसी अन्य प्रकिया द्वारा बलपूर्वक प्रक्रिया से मुक्त नहीं किया जा सकता है ।

डेडलॉक को हल करने के लिए कोई एक प्रक्रिया को रद कर सकता है ताकि दूसरे को जारी रखा जा सके । लेकिन ऑपरेटिंग सिस्टम ऐसा नही करता है । यह कार्य पूरा होने तक आवश्यक समय के लिए प्रोसेसर को संसाधन आवंटित करता है । इसलिए, संसाधनों का कोई अस्थायी पुनर्वितरण नहीं है ।

Circular wait

इस स्थिति से, सभी प्रक्रियाओं को चक्रीय तरीके से संसाधन की प्रतीक्षा करनी चाहिए जहां अंतिम प्रक्रिया पहली प्रक्रिया द्वारा रखे गए संसाधन की प्रतीक्षा करती है ।

यह एक ऐसी स्थिति है जब पहली प्रकिया दूसरी प्रक्रिया द्वारा आयोजित संसाधन की प्रतीक्षा कर रही है, दूसरी प्रक्रिया तीसरी प्रक्रिया द्वारा आयोजित संसाधन की प्रतीक्षा कर रही है, और इसी तरह अंत में, अंतिम प्रक्रिया पहली प्रक्रिया द्वारा आयोजित संसाधन की प्रतीक्षा कर रही होती है ।

इसलिए, प्रत्येक प्रक्रिया संसाधन जारी करने के लिए एक दूसरे की प्रतीक्षा कर रही होती है और कोई भी अपना संसाधन जारी नहीं कर रहा होता है । यहां हर कोई संसाधन मिलने का इंतजार कर रहा है तो इसे सर्कुलर वेटिंग कहते हैं ।

डेडलॉक हैंडलिंग क्या है (What is Deadlock Handling) ?

डेडलॉक से निपटने का मतलब है, डेडलॉक से निपटने के लिए अलग अलग तरीके, जिनमें शामिल हैं :-

  • यह सुनिश्चित करने के तरीके कि सिस्टम कभी भी गतिरोध की स्थिति में प्रवेश नहीं करेगा ।
  • ऐसे तरीके जो सिस्टम को डेडलॉक में प्रवेष करने और फिर ठीक होने या डेडलॉक की समस्या को अनदेखा करने की अनुमति देते है ।

यह सुनिश्चित करने के लिए कि डेडलॉक कभी न हो, डेडलॉक निवारण /परिहार योजनाओं का उपयोग किया जाता है । डेडलॉक उत्पन्न होने के लिए चार आवश्यक र्शर्तें है Mutual exclusion , hold and wait, no preemption and circular wait.

निर्ष्कष – Conclusion

Deadlock को हिन्दी में गतिरोध कहा जाता है, यह एक ऐसी स्थिति है जहां दो या दो से अधिक प्रक्रियाएं एक दूसरे की प्रतीक्षा कर रही होती हैं ।

मुझे आशा है आपने ऑपरेटिंग में डेडलॉक क्या है (What is Deadlock in Operating System in Hindi), डेडलॉक उत्पन्न होने की स्थितियॉ क्या क्या होता है, डेडलॉक को कैसे हैंडलिंग और रोक सकते है, इन सबके बारे में आपने अच्छे से सीख लिया हैं ।

अगर फिर भी Deadlock के बारे में आपका कोई भी सवाल है तो आप हमें कमेंट करके जरूर सूचित कर सकते है ।

अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकी उन्हें भी इस बारे में जानकारी प्राप्त हो सके ।

Tazahindi Staff
Tazahindi Staffhttps://tazahindi.com
इस पोस्ट के लेखक सत्यजीत है, वह इस वेबसाइट का Founder भी हैं । उन्होंने Information Technology में स्नातक और Computer Application में मास्टर डिग्री प्राप्त की हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here