Home Computer Science पाइपलाइनिंग क्या है |What is Pipelining in Computer architecture in Hindi

पाइपलाइनिंग क्या है |What is Pipelining in Computer architecture in Hindi

2
2702
What is Pipelining in Hindi

हेल्लो पाठकों !

क्या आप जानना चाहते है, कंप्यूटर आर्किटेक्चर में पाइपलाइनिंग क्या है (What is Pipelining in Computer Architecture in Hindi), पाइपलाइनिंग कितने चरणों में कार्य करता है, पाइपलाइनिंग कितने प्रकार के होते है, पाइपलाइनिंग का उपयोग क्यों किया जाता है, पाइपहाइनिंग की विशेषताएं क्या है ।

यदि आप कंप्यूटर बनाने या आर्किटेक्चर में रूचि रखते है तो आपको पाइपलाइनिंग के बारे में जानना और सीखना बहुत जरूरी है । कंप्यूटर आर्किटेक्चर में पाइपलाइनिंग का बहुत बड़ा योगदान है ।

ते चलिए Pipelining के बारे में सीखते है ।

पाइपलाइनिंग क्या है (What is Pipelining in Computer architecture in Hindi) ?

पाइपलाइनिंग सीपीयू के हार्डवेयर तत्वों को व्यवस्थित करने की एक प्रक्रिया है जिससे इसका समग्र प्रदर्शन बढ़ जाता है । एक पाइपलाइन वाले प्रोसेसर में एक से अधिक निर्देशों का एक साथ निष्पादन होता है ।

पाइपलाइनिंग एक पाइपलाइन के माध्यम से प्रोसेसर से निर्देश जमा करने की प्रक्रिया है । यह एक व्यवस्थित प्रक्रिया में निर्देशों को संग्रहीत और निष्पादित करने की अनुमति देता है । इसे पाइपलाइन प्रोसेसिंग के रूप में भी जाना जाता है ।

पाइपलाइनिंग एक कार्यान्वयन तकनीक है जिसके द्वारा कई निर्देशों के निष्पादन को ओवरलैप किया जा सकता है, उसे पाइलाइनिंग कहलाती है ।

पाइपलाइनिंग कितने चरणों में कार्य करता है (Pipelining works in how many stages) ?

पाइपलाइनिंग में पॉच चरण होते है :-

  • Instruction Fetching (IF)
  • Instruction Decoding (ID)
  • Instruction Execution (IEX)
  • Memory Access (MA)
  • Register Write Back (RWB)

पाइपलाइनिंग कितने प्रकार के होते है (Types of Pipelining ) ?

पाइपलाइनिंग दो प्रकार की होती है, जैसे :-

  • Linear Pipelines
  • Non-linear Pipelines

पाइपलाइनिंग का उपयोग क्यों किया जाता है (Why Pipelining is used) ?

पइपलाइनिंग का उपयोग मुख्य रूप से समानांतर में प्रक्रियाओं के लिए कंप्यूटर प्रोसेसर के लिए निर्देशों की एक पाइपलाइन बनाने और व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है । आमतौर पर, पाइपलाइनिंग एक सतत प्रक्रिया है जहां नए कार्यों को बार बार जोड़ा जाता है और पूण किए गए कार्यों को हटा दिया जाता है ।

इन कार्यों में से प्रत्येक के अलग अलग चरण या खंड होते है और एक निर्दिश्ट समय पर प्रसंस्करण पूरा होने के बाद पाइपलाइन छोड़ देते है ।
इन सभी कार्यों को समानांतर में निष्पादित किया जाता है और उनके आकार, जटिलता और प्राथमिकता के आधार पर प्रोसेसर समय का उचित हिस्सा प्रदान किया जाता है ।

पाइपलाइनिंग में कोई भी कार्य या निर्देश शामिल हो सकते हैं जिन्हें प्रसंस्करण समय या शक्ति की आवश्यकता होती है ।

पाइपहाइनिंग की विशेषताएं क्या है (What are the characteristics of a Pipelining)  ?

निर्ष्कष – Conclusion

मुझे आशा है आपने पाइपलाइनिंग क्या है (What is Pipelining in Computer Architecture in Hindi), पाइपलानिंग आसल में कितने चरणों में कार्य करता है, यह कितने प्रकार है, इसका उपयोग क्यों किया जाता है और इसके विशेषताएं क्या है, इन सबके में आपने अच्छे से सीख लिया हैं ।

अगर फिर भी आपको पाइपलाइनिंग के बारे में आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप हमारे इस बिषय में अन्य पोस्ट को पढ़ सकते है और हमें कमेंट करके भी उसके जानकारी प्राप्त कर सकते है ।

मुझे उम्मीद है इस पोस्ट से आज आपने कंप्यूटर आर्किटेक्चर के बारे में कुछ नऐ जानकारी प्राप्त किया है । अगर आपको यह पसंद आया है तो इस पोस्ट को कृपया सोशल मीडिया में षेयर करें, जिससे अन्य लोग भी इसके बारे में जानकारी प्राप्त कर सके ।

इस पोस्ट के लेखक सत्यजीत है, वह इस वेबसाइट का Founder भी हैं । उन्होंने Information Technology में स्नातक और Computer Application में मास्टर डिग्री प्राप्त की हैं ।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here