HomeCS SubjectsComputer Scienceडिजिटल सर्किट क्या है | What is Digital Circuit in Hindi

डिजिटल सर्किट क्या है | What is Digital Circuit in Hindi

हेल्लो पाठकों !

क्या आप जानना चाहते है डिजिटल सर्किट क्या है (What is Digital Circuit in Hindi), डिजिटल सर्किट किस किस उपकरणों से बनता है, डिजिटल सर्किट के प्रकार, Combinational Circuit क्या है, Sequential Circuit क्या है और डिजिटल सर्किट कैसे कार्य करता है ?

अगर आप इन सवालों के जबाव जानना चाहते है, तो आपका इस पोस्ट में स्वागत है ।

मेरा लिखा हुया इस पोस्ट को अगर आपने अच्छे से पढ़ेंगे, तो मुझे उम्मीद है कि सर्किट कया है, डिजिटल सर्किट क्या है और डिजिटल सर्किट कैसे कार्य करता है इन सब के बारे में आपको विस्तार से जानकारी मिल जाएगी ।

तो चलिए शुरू करते है ।

कंप्यूटर क्या है (What is Computer)

कंप्यूटर एक ऐसा उपकरण है जो यूजर से प्रोग्राम या निर्देंशों के माध्याम से मिली जानकारी को डिजिटल डेटा के रूप में प्राप्त करता है और उन डेटा को संसाधित करके यूजर को परिणाम देता है ।

कंप्यूटर को डिजिटल सिस्टम के नाम से भी जाना जाता है । यह एक ऐसा सिस्टम है जो विभिन्न कंप्यूटेशनल कार्य करता है ।

हम जिसे कंप्यूटर कहते है आसल में वह कोई प्रकार के इलेक्टॉनिक पूर्जो से मिलकर बनता है और कोई भी इलेक्टॉनिक डिवाइस में सबसे महत्वपूर्ण और बुनियादी पूर्जा का नाम है सार्किट बोर्ड ।

किसी भी कंप्यूटर का सीपीयू विभिन्न सर्किट से बना होता है, तो चलिए जानते है सर्किट क्या होता है ।

सर्किट क्या है (What is Circuit)

सर्किट एक विदयुत उपकरण है जो विदयुत प्रवाह के लिए मार्ग प्रदान करता है ।

एक सर्किट अलग अलग इलेक्टॉनिक घटकों से बनता है जिसके माध्यम से बिजली प्रवाहित होते है । एक सर्किट एक षक्ति स्रोत जैसे कि बैटरी, सर्किट को काम करने के लिए उर्जा प्रदान करता है ।

सर्किट शब्द एक फिजिकल या वैचारिक लूप को संदर्भित करता है, अक्सर बिजली प्रणालियों या अन्य तकनीकों से जुड़े विभिन्न कार्यों को समायोजित करने के लिए उस लूप को हल करने या बंद करने पर जोर दिया जाता है ।

डिजिटल सर्किट क्या है (What is Digital Circuit in Hindi) ?

डिजिटल सर्किट एक प्रकार का इलेक्टॉनिक सर्किट होता है जो विभिन्न लॉजिक गेटस पर संचालित होता है और लॉजिकल ऑपरेशन करता है । लॉजिक सर्किट का उपयोग आसल में विभिन्न पावयर सापलाई के बीच अंतर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है ।

डिजिटल सर्किट का उपयोग विभिन्न फाटको के माध्यम से इलेक्टॉनिक उपकरण के विभिन्न भागों में बिजली संकेत संचालित करने के लिए किया जाता है ।

डिजिटल सर्किट को स्विचिंग सर्किट भी कहा जाता है क्योंकि वोल्टेज का स्तर एक मान से दूसरे मान में एक साथ बदल जाता है ।

डिजिटल सर्किट लॉजिकल ऑपरेषन करने के लिए प्रोग्राम किए गए कई लॉजिक सर्किट के साथ एम्बेडेड है ।

इलेक्टॉनिक सर्किट बूलियन लॉजिक AND, OR, NOT आदि के नियमों के अनुसार बाइनरी डेटा को लेता है और संसाधित करता है ।

डिलिटल लॉजिक सर्किट वह है जहां वोल्टेज की उपयोग सीमित वोल्टेज और अलग-अलग मूल्यों के साथ की जाती है ।

लॉजिक सर्किट को लॉजिकल एक्सप्रेशन और सर्किट सिंवल का उपयोग करके व्यक्त किया जाता है ।

डिजिटल सर्किट के पुरजा – Basic components of Digital Circuit

एक डिजिटल सर्किट में विभिन्न घटक होते हैं जिनमें से प्रत्येक का एक विशिष्ट कार्य करने के लिए उपयोग किया जाता है । इनमे से कुछ बुनियादी घटक है :-

  • Diodes
  • Transistor
  • Resistor
  • Capacitor
  • Inductors
  • Battery
  • Logic Gates
  • Switch

डिजिटल सर्किट के प्रकार – Types of Digital Circuits

सभी डिजिटल सर्किट को निचे दिए गए दो प्रकारों में वर्गीकृत किया जा सकता है :-

  • Combinational Circuit
  • Sequential Circuit

चलिए इन दोनों प्रकार सर्किट के बारे में बिस्तार से समझाता हुं ।

Combinational circuits

कॉम्बिनेशन सर्किट को संयोजन सर्किट कहा जाता है । यह डिजिटल सर्किट का एक ऐसे वर्ग है जहां सर्किट के आउटपुट केवल वर्तमान इनपुट पर निर्भर होते हैं ।

कॉम्बिनेशन सर्किट एक सिस्टम है जिसमें बेसिक बूलियन ऑपरेषन जैसे (AND, OR, NOT), कुछ इनपुट और आडटपुट का एक सेट होता है ।
कॉम्बिनेशन सर्किट का आउटपुट पूरी तरह इनपुट पर निर्भर करता है । कॉम्बिनेशन सर्किट में कोई मेमारी कंपोनेंट नहीं होता है ।

कंप्यूटर के हार्डवेयर और सॉफटवेयर उपकरणों को डिजाइन करने के लिए कॉम्बिनेशन सर्किट को Micro controllers और Micro processors में लागू किया जा सकता है ।

Types of Combinational circuits

  • Adders
  • Subtractors
  • Comparators
  • Decoders
  • Encoders
  • Multiplexers
  • De-Multiplexers

Sequential Circuits

Sequential सर्किट को अनुक्रमिक, क्रमबद्ध या सिजसिलेवार सर्किट कह सकते हो । Sequential सर्किट Combinational सर्किट के समान नहीं है ।

यह ऐसे सर्किट होती हैं जिनके आउटपुट न केवल वर्तमान इनपुट पर बल्कि पिछले सभी इनपुट पर भी निर्भर होते है । यह सर्किट पिछले इनपुट और आउटपुट को बचाने के लिए एक अलग मेमोरी कंपोनेंट रखता है ।

मूल रूप से मेमोरी तत्व वे उपकरण होते हैं जो बाइनरी सूचनाओं को संग्रहीत करने में सक्षम होते हैं । मेमोरी तत्व में संग्रहीत बाइनरी जानकारी किसी भी समय Sequential सर्किट की स्थिति को परिभाषित करती है ।

Types of sequential circuit

Sequential सर्किट आमतौर पर दो प्रकार के होते हैं :-

  • Synchronous sequential circuits
  • Asynchronous sequential circuits

Read More: यदि आप सभी सरकारी योजनाओं के बारे में जानने में रुचि रखते हैं तो आप यहां से हमारी समर्पित वेबसाइट Todayschemes.com पर जा सकते हैं

डिजिटल सर्किट कैसे काम करता है (How does a digital circuit works) ?

कंप्यूटर अपने सभी मूलभूत संचालन बाइनरी डिजिट फार्मेट में करते हैं और कुछ मामलों में दशमलव मान भी निहित होते हैं ।

लॉजिक ऑपरेशन डिजिटल लॉजिक गेटस का उपयोग करके सर्किट द्वारा किए जाते हैं ।

सभी सामान्य लॉजिक गेटस बूलियन फंक्शन पर काम करते हैं ताकि Truth Table के आधार पर आउटपुट दिया जा सके और सिंगल बाइनरी डिजिट में आउटपुट प्राप्त किया जा सके ।

निर्ष्कष – Conclusion

मुझे उम्मीद है कि इस लेख को पड़ने के बाद आपको डिजिटल सर्किट के बारे में काफी कुछ सीखने को मिला होगा, जैसे डिजिटल सर्किट क्या है, इसके कितने प्रकार होते है, डिजिटल सर्किट किस किस उपकरणों से मिलकर बनता है एवं डिजिटल सर्किट कैसे कार्य करता है ।

यदि फिर भी आपके मन में इस लेख के उपर कोई भी सवाल या सूझाव है तो आप हमें कमेंट के जरिये सूचित करें ।

अगर हमारा यह लेख आपको पसंद आया तो इसे सभी सोशल मीडिया पर सेयर करें ताकी आपके के साथ साथ दूसरे लोग भी इसके बारे में जानकारी प्राप्त कर सकें ।

अन्य पोस्ट पढ़े :-

FAQs on Digital Circuit

  1. डिजिटल सर्किट के मूल बिल्डिंग ब्लॉक्स कौनसी हैं ?

    डिजिटल सर्किट के बुनियादी बिल्डिंग ब्लॉक्स लॉजिक गेट्स हैं। इनमें AND, OR, NOT, XOR और NAND गेट शामिल हैं। यह गेटस द्वार आउटपुट सिग्नल उत्पन्न करने के लिए बाइनरी सिग्नल पर विशिष्ट संचालन करते हैं।

  2. डिजिटल सर्किट में लॉजिक डायग्राम क्या है ?

    लॉजिक डायग्राम एक डिजिटल सर्किट का एक ग्राफिकल प्रतिनिधित्व है जो लॉजिक गेट्स और अन्य डिजिटल घटकों के इंटरकनेक्शन को दर्शाता है। इसका उपयोग डिजिटल सर्किट को डिजाइन, विश्लेषण और दस्तावेज करने के लिए किया जाता है।

  3. डिजिटल सर्किट में ट्रूथ टेबल क्या है ?

    ट्रुथ टेबल एक टेबल है जो इनपुट सिग्नल के सभी संभावित संयोजनों के लिए एक लॉजिक गेट का आउटपुट दिखाता है। इसका उपयोग गेट के व्यवहार को निर्धारित करने और अधिक जटिल डिजिटल सर्किट डिजाइन करने के लिए किया जाता है।

  4. डिजिटल सर्किट में डिकोडर क्या है ?

    डिकोडर एक डिजिटल सर्किट है जो बाइनरी कोड को आउटपुट सिग्नल के सेट में परिवर्तित करता है। यह अक्सर एक इनपुट सिग्नल के आधार पर कई आउटपुट को नियंत्रित करने के लिए डिजिटल उपकरणों में प्रयोग किया जाता है।

  5. डिजिटल सर्किट में शिफ्ट रजिस्टर क्या है ?

    शिफ्ट रजिस्टर एक डिजिटल सर्किट है जो बिट्स के अनुक्रम को स्टोर कर सकता है और उन्हें एक समय में एक स्थान पर स्थानांतरित कर सकता है। इसका उपयोग अक्सर serial डेटा संचार और डिजिटल सिग्नल प्रोसेसिंग में किया जाता है।

अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकी उन्हें भी इस बारे में जानकारी प्राप्त हो सके ।

Satyajit
Satyajithttps://tazahindi.com
इस पोस्ट के लेखक सत्यजीत है, वह इस वेबसाइट का Founder भी हैं । उन्होंने Information Technology में स्नातक और Computer Application में मास्टर डिग्री प्राप्त की हैं ।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular