HomeCS SubjectsComputer Networksकंप्यूटर नेटवर्क में ट्रैफिक मैनेजमेंट क्या हैं | What is traffic...

कंप्यूटर नेटवर्क में ट्रैफिक मैनेजमेंट क्या हैं | What is traffic management in computer network

हेल्लो पाठकों !

क्या आप जानना चाहते है, कंप्यूटर नेटवर्क में ट्रैफिक मैनेजमेंट क्या है (What is traffic management in computer network in Hindi), कंप्यूटर नेटवर्क में ट्रैफिक कितने प्रकार है, कंप्यूटर नेटवर्क में ट्रैफिक मैनेजमेंट क्यों जरूरी है और ट्रैफिक विष्लेशण क्यों महत्वपूर्ण है ।

तो चलिए traffic management के बारे में विस्तार से जानते है ।

नेटवर्क ट्रैफिक क्या है (What is network traffic in Hindi) ?

नेटवर्क ट्रैफिक किसी भी समय किसी कंप्यूटर नेटवर्क पर चलने वाले डेटा की मात्रा है । नेटवर्क ट्रैफिक, जिसे डेटा ट्रैफिक भी कहा जाता है, को डेटा पैकेट में विभाजित किया जात है और प्राप्त करने वाले डिवाइस या कंप्यूटर द्वारा फिर से इकटठा किए जाने से पहले एक नेटवर्क पर भेजा जाता है ।

कंप्यूटर नेटवर्क में ट्रैफिक कितने प्रकार है (Types of traffic in computer network) ?

ट्रैफिक के प्रकार की पहचान करने से नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर को नेटवर्क के अनुकूलन को सुविधाजनक बनाने में मदद करता है । नेटवर्क ट्रैफिक के विभिन्न प्रकार हैं :-

  • Bursty traffic
  • Interactive traffic
  • Latency sensitive traffic
  • Non Real Time traffic

कंप्यूटर नेटवर्क में ट्रैफिक मैनेजमेंट क्या है (What is traffic management in computer network) ?

नेटवर्क ट्रैफिक मैनेजमेंट नेटवर्क की गतिविधियों की निगरानी और नियंत्रण की प्रक्रिया के साथ साथ प्रदर्षन, दक्षता और सुरक्षा में सुधार करके नेटवर्क को एक प्रबंधित संसाधन में बदलने से संबंधित है । यह नेटवर्क सिस्टम के संचालन, प्रषासन और रखरखाव में भी मदद करता है ।

नेटवर्क पैकेट को प्रोसेस करता है, ट्रैफिक मैनेजमेंट नीति की तीन श्रेणियों के अनुसार, वह है :-

  • Forwarding policy
  • Scheduling policy
  • Drop policy

कंप्यूटर नेटवर्क में ट्रैफिक मैनेजमेंट क्यों जरूरी है (Why traffic management is necessary in computer networks) ?

नेटवर्क ट्रैफिक विश्लेषण क्यों महत्वपूर्ण है (Why network traffic analysis are important) ?

नेटवर्क ट्रैफिक विश्लेषण नेटवर्क व्यवस्थापकों द्वारा नेटवर्क गतिविधि की जांच करने, उपलब्धता का मैनेज करने और असामान्य गतिविधि की पहचान करने के लिए उपयोग की जाने वाली एक तकनीक है ।

यह व्यवस्थापकों को यह निर्धारित करने में भी सक्षम बनाता है कि क्या वर्तमान परिस्थितियों में कोई सुरक्षा या परिचालन संबंधी समस्याए मौजूद हैं या आने वाले दिनों पर समस्याए मौजूद हो सकती हैं ।

नेटवर्क ट्रैफिक विश्लेषण करने से इस तरह के मुद्दों को संबोधित करते हुए वे न केवल संगठन के संसाधनों को अनुकूलन करते हैं बल्कि हमले की संभावना को भी कम करते हैं ।

निर्ष्कष – Conclusion

मुझे आशा है, इस पोस्ट से आपने कंप्यूटर नेटवर्क में ट्रैफिक मैनेजमेंट क्या है और किस काम आता है के बारे में हिन्दी में पूरी जानकारी प्राप्त कर लिया है ।

FAQ’s

Q1 :

Ans:

अन्य पोस्ट पढ़े :-

अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकी उन्हें भी इस बारे में जानकारी प्राप्त हो सके ।

Tazahindi Staff
Tazahindi Staffhttps://tazahindi.com
इस पोस्ट के लेखक सत्यजीत है, वह इस वेबसाइट का Founder भी हैं । उन्होंने Information Technology में स्नातक और Computer Application में मास्टर डिग्री प्राप्त की हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here